अनानास की खेती कैसे करें How to Cultivate Pineapple1 min read

0
48
Reading Time: 2 minutes

अनानास की खेती | Ananas ki kheti kaise kare in hindi

अनानास ब्राजील का मूल पौधा है। यह एक ताजा फल है जिसे कभी भी खाया जा सकता है। यह विभिन्न पोषक तत्वों से भरपूर फल है जो शरीर से विभिन्न विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद करता है। ट्रंक बहुत छोटा है – बहुत मजबूत। अनानास का तना आमतौर पर मेजबानों से ढका होता है और अच्छी तरह से रखा जाता है। अनानास कैल्शियम से भरपूर होता है शरीर को कई तरह की ऊर्जा देता है।

अनानास की खेती

अनानास विभिन्न जलवायु परिस्थितियों में आसानी से बढ़ सकता है। हालांकि दोमट की मिट्टी खेती के लिए सबसे उपयुक्त होती है। 5-6 पीएच वाले पानी के पाइप पर्याप्त माने जाते हैं। इसलिए बायोमास से भरपूर मिट्टी सबसे अच्छी मानी जाती है। 15-33 डिग्री का तापमान संस्कृति के लिए आदर्श माना जाता है। अगर हम देश की बात करें तो हम पश्चिमी तट पर पहाड़ियों के उत्तर-पूर्व में 1000 से 2000 फीट की ऊंचाई पर उगते हैं। मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ में उत्पादन कम है। इसके अलावा यह छत्तीसगढ़ के बिलासपुर बस्तर सुरकुजा जिलों में आसानी से उगाया जाता है।

बुआई का समय

खेती की बात करें तो अनानास बरसात के मौसम में लगाया जाता है। यहां तक ​​कि पूर्वोत्तर के ऊंचे इलाकों में भी साल भर मिट्टी में पर्याप्त नमी रहती है। मैदानी इलाकों में रोपण से पहले जमीन और खेतों की अच्छी तरह से जुताई करें। पहाड़ी क्षेत्रों में उगता है। खेती के लिए रोपण कार्य एक पंक्ति से दूसरी पंक्ति में करें। 10 सें.मी. के छोटे-छोटे पौधे जमीन में बो दें। पौधे को सीधे मिट्टी में लगाएं और काले क्षेत्रों को मिट्टी से न भरें। भारत में प्रति व्यक्ति कुल 15-20000 पौधे आसानी से 10-15 टन उत्पादन कर सकते हैं। अंतर्गत। लंबी दूरी के लिए। पौधों के बीच की दूरी 25 सेमी और पंक्ति की दूरी 60 सेमी है। पौधे को 10 सेमी की गहराई तक लगाएं। पौधे को छाया में एक सप्ताह तक सुखाएं और पत्तियों को काट लें।

कटाई और तुड़ाई

सामान्य रूप से पौधों को रोपने में लगभग 15 से 18 महीने में फूल आते है. पुष्पन के लगभग 4-5 महीने बाद फल लगने लगते है.अनानास का फल शर्करा बाहुल्य होता है और विटामिन बी, सी, ए का सर्वोत्तम स्त्रोत माना जाता है. फल की गुणव्तता शर्करा तथा फल के रस में प्राप्त होने वाले अम्लों पर पूरी तरह से निर्भर होती है. जब फूल 80 प्रतिशत तक परिप्कव हो जाए तब आप आसानी से इनको पेड़ों से तोड़ सकते है. लेकिन खाने के लिए पूरी तरह से पकने के बाद ही इनका सेवन करना चाहिए.

भंडारण


अनानास के फलों को अधिक समय तक भंडारित नहीं किया जा सकता है. इसीलिए तोड़ने के कुल 4 से 5 दिनों के अंदर ही इसको खा लेना चाहिए. फल कटाई करने के बाद काट-छाटं करके अच्छे से टोकरी में रखें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here