Reading Time: 3 minutes

दोस्तों आप में से कई लोग इस बात को लेकर परेशान होंगे की ऑपरेटिंग सिस्टम क्या होता है और कंप्यूटर में इसका क्या काम होता है| basically आपको पता होगा की ये जो आप window 7 या window 10 यूज़ करते है ये ऑपरेटिंग सिस्टम है लेकिन एक्चुअल में अगर आप इस बात को क्लियर करना चाहो की ऑपरेटिंग सिस्टम की परिभाषा क्या होती है और ऑपरेटिंग सिस्टम हमारे कंप्यूटर के लिए क्यों आवश्यक होता है तो आप कहीं न कहीं confuse हो जाते है तो ये सब जानकारी आज हम इस लेख में समझेंगे तो चलिए शुरू करते है |

ऑपरेटिंग सिस्टम क्या होता है:

अब हमारा सबसे इम्पोर्टेन्ट सवाल आता है की ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है तो आपको एक बात तो पता ही होगी की हमारा कंप्यूटर दो हिस्सों में डिवाइड होता है |

  • हार्डवेयर  ( जो भी हमारे एक्सटर्नल डिवाइस होते है वह हार्डवेयर कहलाते है जेसे: कीबोर्ड, माउस, सीपीयू ,मदरबोर्ड, रेम, रोम आदि | जिन्हें भी हम छू सकते है वह हार्डवेयर कहलाते है |
  • सॉफ्टवेयर ( ये वो डिजिटल डाटा या इंस्ट्रक्शन है जिन्हें आप देख सकते हो उसे कर सकते हो परन्तु टच नहीं कर सकते जैसे कंप्यूटर ऑन करने के बाद आप बहुत से एप्प तथा गेम्स चलाते हो जो की सॉफ्टवेयर कहलाते है

अब हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर क्लियर हो गया अब जानते है की ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है |

ये जो सॉफ्टवेयर है वह दो हिस्सों में डिवाइड होता है 1. Application Software  2. System Software 

  • Application Software: ये वो सॉफ्टवेयर होते है जिन्हें हमें install करना पड़ता है
  • System Software:   ऑपरेटिंग सिस्टम को ही सिस्टम सॉफ्टवेयर कहा जाता है

ऑपरेटिंग सिस्टम के कार्य :

चलिए अब जान लेते है की ऑपरेटिंग सिस्टम का क्या काम होता है या ये हमारे कंप्यूटर में क्या काम करता है

ऑपरेटिंग सिस्टम आपके एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर व् आपके हार्डवेयर कॉम्पोनेन्ट को कण्ट्रोल करता है| उदाहराण के लिए मान लीजिये आपने टाइपिंग मास्टर सॉफ्टवेयर install किया अब आप उसे चलाओगे कैसे माउस और कीबोर्ड की मदद से तो यहाँ पे सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर का interaction होगा यहाँ पे हमें application भी चलानी है और हार्डवेयर कॉम्पोनेन्ट भी चलाना है तो हमे चाहिए होगा एक प्लेटफार्म, एक जगह जहाँ पर हम इन दोनों का उसे एक साथ कर सके तो वो जो जगह है जहाँ हम दोनों चीज़ साथ में चला पाते है उस प्लेटफार्म को ऑपरेटिंग सिस्टम कहते है|

ऑपरेटिंग सिस्टम के फायदे: 

ऑपरेटिंग सिस्टम की मदद से हम आसानी से किसी भी फोल्डर पे एक्सेस कर पाते है| अब बात करते है ऑपरेटिंग सिस्टम क्यों इतना ज्यादा ज़रूरी है | दोस्तों अगर आप इसकी हिस्ट्री में जाओ तो आपको पता लगेगा की जब ऑपरेटिंग सिस्टम नहीं था तब क्या होता था? किसी भी तरह के particular फोल्डर पर जाने के लिए या, फाइल पर जाने के लिए आपको नंबर ऑफ़ कोडिंग करनी पड़ती थी यानी के अगर आपको किसी फोल्डर पर जाना है तो पहले वहां पर आपको उसकी कोडिंग करनी पड़ेगी फिर स्लैश देकर आपको उस फोल्डर का नाम डालना पड़ता था तब जाकर आप वहां पहुँचते थे |

तो basically ये जो इतना अच्छा आपको interface नज़र आता है इतना अच्छा view नज़र आता है या इतनी आसानी से आप क्लिक कर पाते हो और shortcut keys इस्तेमाल कर पाते हो ये सब depend करता है ऑपरेटिंग सिस्टम पर|

तो ये था What is Operating System  I Hope आपको समझ आया होगा 

Conclusion:

आज के हमारे लेख का विषय था “What is Operating System in hindi  ” उम्मीद करता हूँ आपको मेरा ये लेख ज़रूर पसंद आया होगा| इस लेख में मैंनेआपको ”What is Operating System in hindi ”के बारे में पूर्ण जानकारी देने का प्रयास किया है अगर आपको मेरी ये जानकारी पसंद आये तो अपने दोस्तों  व् अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ज़रूर शेयर करे |  टेक्नोलॉजी,ब्लॉग्गिंग और इतिहास से रिलेटेड और भी जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट gyaanhindime.com को ज़रूर सब्सक्राइब कर ले|

अगर इसमें कुछ कमी लगे , या आपके मन में कोई सलाह या फिर कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में ज़रूर बताएं| 

                         धन्यवाद् 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here